बांसी नगरपालिका : लगा गंदगी का अंबार, स्वच्छता अभियान में नगर पालिका दिख रहा फेल-दैनिक बुद्ध का संदेश संवाददाता सिद्धार्थ नगर से सुरेंद्र मिश्रा के रिपोर्ट

0
116
 सुरेंद्र मिश्रा के रिपोर्ट
सिद्धार्थ नगर/ बांसी नगरपालिका के सभी वार्डों में स्वच्छ भारत अभियान फेल होता नजर आ रहा है जगह जगह गंदगी के अंबार लगे हैं जबकि वहां सफाई कर्मी भी नियुक्त है मगर सफाई होता कहीं नजर नहीं आ रहा है। दावे करने के लिए तो नगर पालिका बड़े-बड़े दावे करती है लेकिन उनके दावे इस गंदगी के अंबार से स्वच्छता अभियान का पोल खोल रहा है। इसी तरह अगर नगर पालिका में गंदगी व्याप्त रही तो संक्रमण बीमारी नगर पालिका में दस्तक देती नजर आएंगी तब इसका जिम्मेदार कौन होगा लाखों रुपए जहां चुने के नाम पर और झाड़ू के नाम पर और फागिंग कराने के नाम पर खर्च किया जाता है वहा जमीनी हकीकत कुछ और है।
वहीं नगर पालिका ईओ से बात करने पर उन्होंने बताया कि पर महीने 15 से 20 लाख सफाई के नाम पर खर्च किया जाता है।लेकिन सफाई की पोल खुलता नजर आ रहा है।सबसे बड़ी बात तो यह की अपने चहेतों को नगर पालिका के द्वारा कूड़ा वाहन दिया जाता है और दूसरी जगह गंदगी का अंबार लगा रहता है यह कहना गलत नहीं होगा कि नगरपालिका बांसी के वार्डो के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है।
एक तरफ जहां सफाई करआती है दूसरी तरफ गंदगी का अंबार लगा रहता है। अब सवाल ये है कि जहां 15 से 20 लाख पर महीना सरकारी धन का खर्च किया जाता है वह नगर पालिका कचरे में क्यों डूबी रहती है इसका जिम्मेदार कौन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here