गाजीपुर: हैसियत प्रमाण-पत्र को आनलाईन जारी करने की व्यवस्था लागू -दैनिक बुद्ध का संदेश संवाददाता रिपोर्ट- अनिल कुमार मौर्य

0
5
रिपोर्ट- अनिल कुमार मौर्य
गाजीपुर:  जिलाधिकारी के.बालाजी ने बताया है कि जनसामान्य से सम्बन्धित सेवाओं को सरलतम तरीके से उपलब्ध कराने हेतु हैसियत प्रमाण-पत्र को आनलाईन जारी करने की व्यवस्था लागू की गयी है। शासनद्वारा निर्गत निर्देशानुसार हैसियत प्रार्थना-पत्र वर्तमान में आनलाईन स्वीकार किये जायेगे, जिसके आवेदन हेतु आवेदन शुल्क देय होगा, जनसेवा केन्द्र से आवेदन करने पर जनसेवा केन्द्र की फीस के रूप में रू0 10-10 अतिरिक्त देय होगे। आवेदक ई-डिस्ट्रीक वेबसाइट पर सीटीजन लागिन के द्वारा आनलाईन अथवा जनसेवा केन्द्र पर प्रार्थना-पत्र भरने के लिए अपना नाम व मोबाईल नम्बर आवेदन-पत्र  (आकार पत्र हैसियत-1) में भरेगा। जिसका सत्यापन पंजीकृत मोबाईल नम्बर पर  ओ0टी0पी0 द्वारा किया जायेगा। आवेदक द्वारा दो प्रकार की सम्पत्ती का मूल्याकन कराने जाने का विकल्प होगा।
जिसमें आनलाईन आवेदन प्रक्रिया में आवेदक द्वारा (जी0ए0वी0) के माध्यम से सम्पत्ति का मूल्यांकन विकल्प चुने जाने पर प्रार्थना-पत्र में उल्लिखित किया जायेगा अथवा सक्षम प्राधिकारी (राजस्व विभाग ) के माध्यम से सम्पत्ति का मूल्यांकन अपने प्रार्थना-पत्र विकल्प चुने जाने का उल्लेख किया जायेगा। हैसियत प्रमाण-पत्र हेतु आवेदनों का निस्तारण 30 कार्य दिवसों (आपत्ति प्राप्त न होने की स्थिति में) कराया जाना सुनिश्चित किये जाने का निर्देश शासन द्वारा दिये गये है। हैसियत प्रमाण-पत्रो के आनलाईन जारी किये जाने के सम्बन्ध में ई-डिस्ट्रीक्ट की वेबसाइट edistrict.up.nic.in पर उपलब्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here